इन जगहों पर अपने चमत्कारों से भगवान हनुमान लोगों को करते हैं हैरान !


इन जगहों पर अपने चमत्कारों से भगवान हनुमान लोगों को करते हैं हैरान !
                       भारत वर्ष में धर्म और आस्था ने सालों से लोगों के मन में एक अपना विशेष स्थान रखा हुआ है। भारत अकेला ऐसा देश है जहाँ के लोग भगवान का हर स्वरूप पूजते हैं, जिस कारण ही आज भगवान से जुड़े चमत्कारों मे भक्तों का विश्वास होता है। इतिहास गवाह है कि स्वयं भगवान भी अपने भक्तों के बीच अपनी मौजूदगी दर्ज कराने के लिए समय-समय पर अपनी महिमा दिखाते रहते हैं।

कलयुग में भी दिखाते हैं बजरंगबली अपने चमत्कार
                         अगर भगवान हनुमान की बात करें तो मंगलकारी माने जाने वाले और भगवान शिव के ही अवतार बजरंगबली की महिमा और चमत्कारों का उल्लेख भी आपको कई पौराणिक कथाओं में मिल जाएगा। शास्त्रों अनुसार बजरंग बलि बहुत शक्तिशाली और चमत्कारी थे, जिनके किस्सों से ये युग भी वंचित नहीं है। आज भी वर्तमान समय में वो अपने चमत्कारों से अपने भक्तों पर सदैव अपनी दया दृष्टि बनाए रखते हैं, जिसका उदाहरण आज हम आपको देते हुए हनुमान जी के उन मुख्य चमत्कारी मंदिरों के बारे में बताएँगे, जहाँ चमत्कारों को देखने रोज़ लाखों की संख्या में श्रद्धालु दूर-दूर से आते हैं। चलिए है उन मंदिरों के बारे में विस्तार से:-

1. इस मंदिर से गुजरते हुए ही कम हो जाती है ट्रेन की रफ्तार
                    मध्यप्रदेश के शाजापुर जिले में एक ऐसा हनुमान जी का अनोखा मंदिर स्थित हैं, जिसके प्रति लोगों में अपनी एक अनोखी आस्था और विश्वास है। लेकिन फिर भी शायद कम ही लोग हनुमान जी के इस चमत्कारी मंदिर के चमत्कार से वाक़िफ़ होंगे। इस मंदिर की आस्था को लेकर माना जाता है कि यहाँ पास से गुजरने वाली हर ट्रेन की रफ्तार अपने आप ही कम हो जाती है। जिसके चलते ही आज कई वर्षों के बाद भी लोगों की इस मंदिर के प्रति आस्था कम नहीं हो रही है। मंदिर के इस चमत्कार को देखने यहाँ दूर-दूर से लोग आते हैं, जहाँ उन्हें हनुमान जी के भी दर्शन करने को मिलते हैं। ये मंदिर लोगों के बीच इसलिए भी खास है, क्योंकि यहां आपको हनुमान जी की एक सुन्दर प्रतिमा के बाएँ ओर भगवान गणेश जी की एक मूर्ति के दर्शन होते हैं। गाँववालों का इसे लेकर मानना है कि ये अकेला ऐसा मंदिर है जहाँ हनुमान जी और भगवान गणेश दोनों एक साथ विराजमान है और इन दोनों ही देवों की इस अनोखे अंदाज़ में उपस्थिति शुभ संकेत देती है। जिस कारण यहाँ दर्शन करने के बाद सभी भक्तों को मनोवांछित फलों की प्राप्ति होती है।

2. यहाँ बजरंगबली कराते हैं हाथ पीले
                  मध्यप्रदेश के जबलपुर में स्थिति हनुमान जी के इस अनोखे मंदिर के बारे में माना जाता है कि यहाँ विवाह के लिए प्रार्थना करने पर जल्द ही कुंवारे लड़के-लड़कियों के हाथ पीले हो जाते हैं। इस मंदिर में शादी की मनोकामना पूरी करने की प्रक्रिया भी बेहद दिलचस्प है, जिसके अनुसार जिन भी लड़के-लड़कियों की शादी नहीं हो रही होती उन्हें तीन बार महावीर के दरबार में आना पड़ता है। इस दौरान सर्वप्रथम यहां आने वाले लोग पहले लाल कपड़े में जल्द शादी की हनुमान जी से मनोकामना मांग कर नारियल बांधते हैं। जब उनकी मनोकामना पूरी हो जाती है तो इस नारियल को बजरंगबली को अर्पित किया जाता है। जैसे ही बजरंग बलि द्वारा श्रद्धालु की अर्जी पूरी कर दी जाती है, उसके पश्चात यहां हवन आयोजन किया जाता है। हालांकि यह हवन मंदिर समिति ही करवाती है। मंदिर के इस चमत्कार के चलते ही यहाँ हर रोज लाखों की संख्या में श्रद्धालु अपनी-अपनी शादी की मनोकामनाएँ लेकर भगवान हनुमान के चरणों में हाजिरी लगाते हैं। माना जाता है कि यहां हनुमान जी की कृपा से सैकड़ों जोड़े अब तक परियण-सूत्र में बंध चुके हैं।

3. यहाँ मंदिर में भविष्य बताते हैं हनुमान
                   शाजापुर जिले के बोलाई गांव में स्थित हनुमान जी का एक पौराणिक मंदिर देशभर में बेहद प्रसिद्ध है। इस मंदिर को लेकर मान्यता है कि यहाँ हनुमान जी अपने भक्तों को भविष्य बताते हैं। जी हाँ, हम बात कर रहे हैं उस सिद्धवीर खेड़ापति मंदिर की जो करीब 600 साल पुराना बताया जाता है। हालांकि इस मंदिर के चमत्कारों पर यकीन करना पहली दफा थोड़ा मुश्किल होता है, लेकिन देशभर के लोगों में इस मंंदिर की आस्था इतनी गहरी है कि यहाँ आने वाले श्रद्धालुओं को लगता है कि इस मंदिर में विरजमान बजरंग बलि उन्हें भविष्य के बारे में आगाह करते हैं। मान्यता अनुसार इस मंदिर में जो भी भक्त दर्शन करने के लिए आता है, उसे यहाँ आते ही अपने जीवन में घटित होने वाली हर घटना का पूर्वाभास हो जाता है। इसी चमत्कार को सच मानते हुए यहाँ आने वाले कई लोग बताते हैं कि यहां आने के बाद उन्हें खुद ऐसा महसूस हुआ है। बजरंगबली के इस चमत्कार को देखने हर साल लाखों की तादाद में भक्त यहाँ हनुमान जी के दर्शन के लिए आते हैं।

4. हनुमान जी के इस मंदिर में होता है टूटी हड्डियों का इलाज
                     मध्यप्रदेश के ही कटनी जिले से लगभग 35 किलोमीटर दूर मोहास गांव में हनुमान जी का एक बेहद चमत्कारी मंदिर स्थिति है। इस मंदिर में आपको हनुमान जी के एक और चमत्कारी स्वरूप के दर्शन करने को मिलते हैं। इस मंदिर में हनुमान जी का अनोखा चमत्कार दिखाई देता है, जिसे देखने रोज़ाना यहाँ हजारों श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ी रहती है। इस मंदिर को लेकर मान्यता है कि यहां आने वाला कोई भी भक्त खाली हाथ नहीं जाता है। दरअसल इस मंदिर में हनुमान जी किसी वैद्य या डॉक्टर की तरह यहाँ आए मरीज़ों का इलाज करते हैं। जी हाँ जिन भी लोगों के शरीर की हड्डियाँ किसी भी दुर्घटनावश टूट-फूट जाती हैं वह लोग मुख्यतौर से इस मंदिर में उपचार के लिए आते हैं, जिन्हें माना जाता है कि स्वयं हनुमान जी स्वस्थ कर देते हैं। लोगों के बीच इस मंदिर को लेकर श्रद्धा भाव इस कदर देखने को मिलता है कि यहाँ हनुमान जी से अपनी टूटी हड्डियों को ग्रस्त कराने कई लोग तो यहां एंबुलेंस और स्ट्रेचर से भी आते हैं। कहा जाता है कि महावीर हनुमान स्वयं अपनी दिव्य शक्ति से यहाँ आने वाले लोगों की हड्डियाँ जोड़ते हैं। इसलिए हनुमान जी का यह मंदिर ‘हड्डी जोड़ने वाले हनुमान’ के नाम से भी विख्यात है। यहाँ पर हड्डियों के दर्द से राहत पाने के लिए तेल भी मिलते हैं।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ