March, 2016 की पोस्ट दिखाई जा रही हैंसभी दिखाएं
साजिशकर्ता गिरोह के एक शातिर आरोपी को धर-दबोचा जम्मू पुलिस ने।
जो भारत को गरीब-गरीब कहते हैँ वही सब भारत की धन-सम्पदा पर गिद्ध-दृष्टि जमाए बैठे हैँ।
जो हमारे पूर्वजो से लड़ते हुये मारे गए थे...मुस्लिम शासको ने उनकी "कब्र या दरगाहे" बना दी...और हम हिन्दू अनजाने में उन्हे पूजने लगे।
युवाओँ का विनाश कब रुकेगा।
छत्रपति शिवाजी महाराजका अदम्य साहस।
आवश्यक है अद्वैत का भाव पक्का करना।
‘वेग’ ले रहा ‘जान’ मनुष्य की।
रामजी की चिडिया और रामजी का खेत।
संस्कृत प्रेमी राजा भोज।
चैतन्य महाप्रभु का सद्गुरु-प्रेम।
दुनियादारों से परे है यह दीवानगी...
होली के बाद खान-पान में सावधानी।
सतगुरु वचन। - ६२
दैनिक व्यवहारोपयोगी संस्कृत वाक्य।
ज़्यादा पोस्ट लोड करें कोई परिणाम नहीं मिला