चीन में संस्कृत भाषा की बढ़ती लोकप्रियता।

नवंबर 30, 2015
हिंदुस्तान की प्राचीन भाषा संस्कृत के प्रति चीन की नई पीढ़ी में बढ़ती दीवानगी पूरे हिंदुस्तान को गौरवान्वित कर रही हैं। हाल ही में 60 चीनी ब...Read More

संस्कृत वाक्योँ की अदभुत रचनात्मक विशेषता।

नवंबर 30, 2015
संस्कृत वाक्योँ की अदभुत रचनात्मक विशेषता।                              ( १) अक्षरों की क्रमबद्धता से बनती रोचक काव्य पंक्ति। अंग्रेजी में T...Read More

संस्कृत भाषा ही सर्वश्रेष्ठ क्योँ और इसकी वैज्ञानिकता क्या?

नवंबर 30, 2015
प्रश्न:- संस्कृत भाषा ही सर्वश्रेष्ठ क्योँ और इसकी वैज्ञानिकता क्या? उत्तर:- देवभाषा संस्कृत की गूंज कुछ साल बाद अंतरिक्ष में सुनाई दे सकत...Read More

संस्कृत सभी भाषाओं की जननी हैः सर्वोच्च न्यायालय।

नवंबर 30, 2015
संस्कृत सभी भाषाओं की जननी हैः सर्वोच्च न्यायालय। संस्कृत भाषा भारतीय संस्कृति का आधारस्तम्भ है। यह संसार की समृद्धतम भाषा है। इसका अध्ययन ...Read More

वैज्ञानिक अनुसंधानों का आधार है देवभाषा संस्कृत।

नवंबर 30, 2015
वैज्ञानिक अनुसंधानों का आधार है देवभाषा संस्कृत।                              देवभाषा संस्कृत सभी भाषाओं की जननी है। वेद भी इसी भाषा में होन...Read More

पाश्चात्त्य देशोंके विद्वानों द्वारा पहचानी गई संस्कृत भाषा की महानता!

नवंबर 30, 2015
पाश्चात्त्य देशोंके विद्वानों द्वारा पहचानी गई संस्कृत भाषा की महानता! १. यूरोपीय और अरेबियन भाषाओंका संस्कृत भाषासे साधम्र्य ! - विल्यम जो...Read More

चीन में बढने लगी संस्कृत भाषा की लोकप्रियता...

नवंबर 29, 2015
योग की लोकप्रियता से बढी संस्कृत सीखने की चाहत ! बीजिंग :वामपंथी शासनवाले मुल्क चीन की नई पीढी में भारत की प्राचीन भाषा संस्कृत की लोकप्रियत...Read More

नासा ने माना, अंतरिक्ष में केवल संस्कृत की ही चलती है!

नवंबर 29, 2015
नई दिल्ली : आजकल हर तरफ अंग्रेजी का बोलबाला है। विज्ञान से लेकर कार्यालयी भाषा के रूप में अपनी जगह बना चुकी अंग्रेजी अब समय की जरूरत बन चुकी...Read More

नामके प्रति दृढ़ भाव कैसे उत्पन्न होगा?

नवंबर 29, 2015
नामके प्रति दृढ़ भाव कैसे उत्पन्न होगा? नामके प्रति प्रेम नामसे ही उत्पन्न होगा। ऐसा प्रेम प्राप्त होनेके लिये हमें विषयोंके प्रति अपना प्र...Read More

व्याकरण की संधि का ज्ञान न होने पर इस राजा की तरह बार बार अपमानित होना पडता है।

नवंबर 29, 2015
व्याकरण की संधि का ज्ञान न होने पर इस राजा की तरह बार बार अपमानित होना पडता है। एक बार एक राजा और उसकी रानी दोनों एक जलाशय में स्नान के लिए...Read More

भूत, प्रेत, पिशाच आदि का पूजन करनेवालोँ का क्या होता है? (अवश्य पढेँ)

नवंबर 27, 2015
देवता, पितर, ऋषि, मुनि, मनुष्य आदिमें भगवद्‌बुद्धि हो और निष्कामभावपूर्वक केवल उनकी पुष्टिके लिये,उनके हितके लिये ही उनकी सेवा-पूजा की जाय ...Read More
Blogger द्वारा संचालित.