अभिभावकों के लिए।

फ़रवरी 28, 2014
बालक सुधरे तो जग सुधरा। बालक-बालिकाएँ घर, समाज व देश की धरोहर हैं। इसलिए बचपन से ही उनके जीवन पर विशेष ध्यान देना चाहिए। यदि बचपन से ही उनक...Read More

मन यदि संसार में उलझता है तो अपना सत्यानाश करता है।

फ़रवरी 27, 2014
मन यदि संसार में उलझता है तो अपना सत्यानाश करता है। मन यदि परमात्मा में लगता है तो अपना एवं अपने सम्पर्क में आने वालों का बेड़ा पार करता है...Read More

मरो मरो सबको कहे,मरना न जाने कोई.....एक बार ऐसा मरो ,फिर मरना न होए .....

फ़रवरी 27, 2014
मरो मरो सबको कहे,मरना न जाने कोई..... एक बार ऐसा मरो ,फिर मरना न होए........... "आज मजा आया.....आज उसकी बंदगी करने में मजा आ गया,आहहहा...Read More

मूर्ति की पूजा क्योँ करते हैँ? स्वामी विवेकानंदजी और राजा।

फ़रवरी 27, 2014
मूर्ति की पूजा क्योँ की जाती है? स्वामी विवेकानंदजी और राजा। मूर्ति पूजा क्योँ? स्वामी विवेकानंद जी को एक राजा ने अपने महल में बूलाया और ...Read More
Blogger द्वारा संचालित.